बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र – Sik leave application in hindi

बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र हर स्टूडेंट को लिखना पड़ता है। अगर आप स्कूल में पढ़ते हैं और अचानक से आप को बुखार या फिर किसी प्रकार की बीमारी आ जाती है तो आपको प्राप्त करने के लिए अपने प्रधानाचार्य को औपचारिक पत्र लिखना होता है।

बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र लिखना तो सरल है लेकिन लिखने का तरीका आना चाहिए बहुत सारे स्टूडेंट छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र लिखते समय बहुत सारी गलतियां करते हैं।

आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से बताएंगे कि आप अपने प्रधानाचार्य को बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र किस तरीके से लिख सकते हैं।

Advertisement

छुट्टी प्राप्त करने के लिए हमें 2 दिन पहले या फिर 1 दिन पहले अपने प्रधानाचार्य को पत्र लिखना होता है। कक्षा 6 से लेकर कक्षा 12 तक की सभी विद्यार्थियों को प्रार्थना पत्र लिखना आना चाहिए क्योंकि यह एक औपचारिक पत्र है और अवकाश लेने से पहले इस पत्र को लिखकर आप अपने प्रधानाचार्य को दे सकते हैं।

स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों के अलावा भी सरकारी नौकरी कर रहे व्यक्तियों को औपचारिक पत्र लिखना होता है और इस पत्र में कभी-कभी बीमारी की छुट्टी के लिए अपने से बड़े अधिकारी को हमें प्रार्थना पत्र लिखना होता है जो लोग कंपनी में कार्य कर रहे हैं उन्हें भी बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र लिखकर अपने बॉस को देना होता है।

Formal Latter In Hindi Meaning Definition Types Example -औपचारिक पत्र फॉर्मेट इन हिन्दी

For Meaning In Hindi – For Ka Matlab – For हिंदी माइनिंग

Advertisement

बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र कैसे लिखें

1.जब भी आप छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र लिख रहे हैं तो आपको प्रधानाचार्य से विनम्र निवेदन करना होगा ताकि आपको अवकाश मिल सके।

2. जिस कारण से आप छुट्टी ले रहे हैं उसका भी जिक्र प्रार्थना पत्र के अंदर करें।

3. शुरुआत में आपको सेवा शब्द का इस्तेमाल जरूर करना है और अंत में आपको आपका आज्ञाकारी शिष्य भी लिखना जरूरी है।

4. बीमारी छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र लिखते समय आवश्यक बातों पर ध्यान दें जैसे

5. प्रार्थना पत्र लिखते समय सरल और स्पष्ट भाषा का इस्तेमाल करें।

6. प्रार्थना पत्र लिखते समय हिंदी ग्रामर का सबसे महत्वपूर्ण ध्यान रखिए बहुत सारे बच्चे पत्र लिखते समय ग्रामर का ध्यान नहीं देते हैं जो एक प्रकार से टीचर की दृष्टि में सही नहीं है।

7. प्रार्थना पत्र लिखते समय प्रधानाचार्य के प्रति या फिर अधिकारी के प्रति संबोधन और अभिनंदन का इस्तेमाल करें।

8. प्रार्थना पत्र के अंत में आपको अपना नाम और अपने हस्ताक्षर करने आवश्यक हैं।

9. प्रार्थना पत्र लिखते समय आपको प्रार्थना पत्र पर एक दिनांक लिखनी आवश्यक है।

10. प्रार्थना पत्र लिखते समय विषय जरूर लिखें।

11. किसी भी प्रार्थना पत्र को लिखते समय आपको अवकाश का कारण लिखना भी आवश्यक है।

12. अगर आप किसी परीक्षा हॉल में बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र लिख रहे हैं तो आपको अपना नाम और अपने पिताजी का नाम और स्थान की जानकारी नहीं देनी है यहां पर आपको नाम के स्थान पर क, ख़,ग शब्द का इस्तेमाल करना है।

बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र स्कूली छात्राओं के लिए

सबसे ज्यादा बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र स्कूली छात्रों के लिए आवश्यक है क्योंकि स्कूल में विद्यार्थियों को हमेशा जाना होता है केवल संडे के दिन छुट्टी मिलती है और जब स्कूल खुले होते हैं और इसी दौरान कई सारे स्टूडेंट बीमार पड़ जाते हैं इसके लिए उन्हें अपने प्रधानाचार्य क्लास टीचर को एक बीमारी के लिए प्रार्थना पत्र लिखना होता है।

बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र उदाहरण

सेवा में

श्रीमान प्रधानाचार्य

सरस्वती पांडे राजकीय इंटर कॉलेज भवाली

जनपद नैनीताल, उत्तराखंड

विषय – बीमारी की छुट्टी के लिए 4 दिन का प्रार्थना पत्र

महोदया

          सविनय निवेदन इस प्रकार है कि मैं 4 दिनों से बीमार हूं और मुझे बहुत तेज बुखार है मैं चलने फिरने में असमर्थ हूं और मुझे हॉस्पिटल जाने के लिए 4 दिन का स्कूल से अवकाश चाहिए। ताकि मैं जल्दी सही होकर स्कूल आ सकूं।

कृपया मुझे आप 11 तारीख से लेकर 14 तारीख के बीच तक अवकाश देने की कृपा करें।

आपका आज्ञाकारी शिष्य

रोहित राजपूत

कक्षा- 10th

रोल नंबर – 12

धन्यवाद

क्लास टीचर को बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र

कई विद्यालय ऐसे हैं जहां पर प्रधानाचार्य के स्थान पर क्लास टीचर को बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र लिखा जाता है।

सेवा में

कक्षा अध्यापिका

राजकीय प्राथमिक जूनियर स्कूल

नैनीताल उत्तराखंड

विषय – बीमारी की छुट्टी के लिए 1 दिन का अवकाश प्रार्थना पत्र

महोदया

       सविनय निवेदन इस प्रकार है कि मैं आपके कक्षा आठवीं का छात्र हूं और कई दिनों से मैं सिर दर्द का सामना कर रहा हूं जिसके कारण विद्यालय में बैठकर मुझ से पढ़ाई नहीं हो पा रही है और मैं सिर दर्द के इलाज के लिए 1 दिन के लिए डॉक्टर के पास जाना चाहता हूं।

  महोदय आपसे निवेदन है कि मुझे आप दिनांक जुलाई 2022 से लेकर 5 जुलाई 2022 तक 2 दिवस का अवकाश प्रदान करने की कृपा करें ताकि मैं जल्दी सही होकर स्कूल आ सकूं।

धन्यवाद                               पिताजी के हस्ताक्षर

आपका आज्ञाकारी शिष्य

मोहित वर्मा

कक्षा – 8th

सरकारी कर्मचारी के लिए बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र फॉर्मेट

स्टूडेंट के अलावा सरकारी कर्मचारियों को भी छुट्टी लेने के लिए अपने से बड़े अधिकारी को पत्र लिखना होता है। छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र औपचारिक श्रेणी में आता है और बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र संगठन के लिए समान रहता है बस उसमें नाम का परिवर्तन और व्यक्ति की जानकारी के बारे में थोड़ा बहुत परिवर्तन आ जाता है।

सेवा में

शिक्षा मंत्री

उत्तराखंड राज्य

महोदया

      सविनय निवेदन इस प्रकार है कि मैं राजकीय इंटर कॉलेज नैनीताल की अध्यापिका हूं और कई दिनों से मैं दांत दर्द से पीड़ित हूं। जिसके कारण मैं 3 दिन तक विद्यालय नहीं आ सकती हूं।

महोदय मैं आपसे निवेदन करती हूं कि मुझे हॉस्पिटल जाने के लिए दो दिवस का अवकाश प्रदान करने की कृपा करें।

धन्यवाद।                                 हस्ताक्षर

नाम गीता – जोशी

पदनाम – विज्ञान अध्यापिका

प्राइवेट कर्मचारियों के लिए बीमारी की छुट्टी का प्रार्थना पत्र फॉर्मेट

सेवा में

टाटा मोटर्स लिमिटेड प्राइवेट कंपनी नई दिल्ली

दिनांक- 4 – 07 -2022 

विषय- बीमारी की छुट्टी के लिए 2 दिन का प्रार्थना 

महोदया

          सविनय निवेदन इस प्रकार है कि मैं आपके ऑफिस का एक कर्मचारी हूं और मैं काफी दिनों से पेट दर्द से पीड़ित हूं। पेट दर्द दिखाने के लिए मैं हॉस्पिटल जाना चाहता हूं इसलिए महोदय आपसे निवेदन है कि मुझे 2 दिन की छुट्टी देने का कष्ट करें आपका आज्ञाकारी कर्मचारी।

नाम- मोहन सिंह मेहता                  हस्ताक्षर

पद नाम – कंप्यूटर ऑपरेटर

दिनांक –  25-6-2022

बीमारी के लिए प्रार्थना पत्र कक्षा 4

सेवा में

प्रधानाचार्य महोदय

आदर्श विद्यालय भीमताल ,नैनीताल, उत्तराखंड

दिनांक 25-05-2022

सेवा में 

         महोदय सविनय निवेदन इस प्रकार है कि पिछले बीते दिनों से मेरी तबीयत बहुत खराब है जिसके कारण में विद्यालय आने में असमर्थ हूं मुझे आपसे निवेदन करती हूं कि मुझे 2 दिन का अवकाश देने की कृपा करें मैं आपकी बहुत ही आभारी रहूंगी।

धन्यवाद

आपकी आज्ञाकारी शिष्य           पिताजी के हस्ताक्षर

नाम – रोहन सिंह

कक्षा -4

रोल नंबर – 12

बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र1 दिन की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र

सेवा में

प्रधानाचार्य महोदय

केंद्रीय विद्यालय दिल्ली

महोदया 

          सविनय निवेदन इस प्रकार है कि मैं आपके स्कूल के दसवीं क्लास का छात्र हूं और मेरा रोल नंबर 12 है। महोदय मुझे अपने घर में पूजा के लिए 1 दिन का अवकाश चाहिए। आपसे निवेदन करता हूं कि मुझे 1 दिन का अवकाश देने की कृपा करें

धन्यवाद                                       हस्ताक्षर

आपका आज्ञाकारी शिष्य

नाम – विनोद वर्मा

कक्षा – 10th

दिनांक—–

बीमारी की छुट्टी के लिए अच्छा प्रार्थना पत्र कैसे लिखें 

बीमारी की छुट्टी के लिए एक अच्छा पहचान पत्र लिखना बहुत ही आवश्यक है ताकि प्रधानाचार्य को स्पष्ट तरीके से पता चल सके कि आप किस कारण से छुट्टी ले रहे हैं।

एक अच्छी प्रार्थना पत्र की पहचान यही है कि उसका स्पष्टता होनी चाहिए और साथ-साथ कारण भी पता होना चाहिए और अवकाश का समय भी पता होना चाहिए।

application sick leave in hindi video

Conclusion

आप सभी छात्रों और कर्मचारियों को पता लग गया होगा की बीमारी की छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र कैसे लिखा जाता है और कौन सी बातों पर ध्यान दिया जाता है इस आर्टिकल को अगर आपने अच्छे से पढ़ा है तो अब आप छुट्टी के लिए प्रार्थना पत्र बहुत ही आसानी से लिख सकते हैं।

Leave a Comment