Meditation Kaise Kare | मेडिटेशन कैसे करे

Meditation Kaise Kare | मेडिटेशन कैसे करे
Meditation Kaise Kare

आज के व्यस्त जीवन में व्यक्ति मेंटल और फिजिकली फिट नहीं है इसलिए अधिकतर लोग मेडिटेशन करना चाहते हैं और इसलिए लोग गूगल पर आकर सर्च कर रहे हैं कि Meditation Kaise Kare। आज हमारी वेबसाइट इनफॉर हिंदी आपको बताएगी कि मेडिटेशन कैसे करते हैं।

Advertisement

शरीर को स्वस्थ और दिमाग को स्वस्थ रखने के लिए मेडिटेशन बहुत ही आवश्यक है क्योंकि मेडिटेशन के माध्यम से शरीर की साथ-साथ दिमाग को भी स्वस्थ रखा जा सकता है। अधिकांश लोग को मेडिटेशन नहीं करना आता है क्योंकि हर किसी को मेडिटेशन के बारे में नहीं पता होता है।

Meditation कैसे करें, मेडिटेशन करने के फायदे, मेडिटेशन कितने समय तक करना चाहिए, मेडिटेशन के लिए स्थान का चुनाव कैसे करें इन सभी के बारे में आपको इस आर्टिकल पर बताया जाएगा।

मेडिटेशन क्या है?

मेडिटेशन को शुरू करने से पहले आप उस बात की जानकारी होनी चाहिए कि मेडिटेशन क्या है। जब हम मेडिटेशन का नाम सुनते हैं तो सबसे पहले हमारे दिमाग में क्या है शब्द आता है।

मेडिटेशन एक प्रकार का योगा है और मेडिटेशन के माध्यम से आप अपने मन को और दिमाग को और शरीर को शांत कर सकते हैं। मेडिटेशन करते समय आपको ध्यान ही नहीं बल्कि अपने दिमाग और शरीर को भी शांत करना होगा है।

मेडिटेशन के माध्यम से आप एंजायटी और डिप्रेशन को भी दूर कर सकते हैं जिन लोगों को ऐसा लग रहा है कि वह एंजायटी का शिकार हो रहे हैं तो उन्हें मेडिटेशन करना चाहिए। मेडिटेशन के अंतर्गत व्यक्ति को 5 मिनट तक अपना ध्यान सिर्फ एक जगह केंद्रित करना होता है और अपने शरीर को शांत रखना होता है।

मेडिटेशन के माध्यम से आप चीजों को ज्यादा देर तक याद कर सकते हैं क्योंकि म मेडिटेशन के अंतर्गत आपको अपना ध्यान केवल एक जगह केंद्रित करना होता है।

मेडिटेशन की शुरुआत कैसे करें

मेडिटेशन की शुरुआत आप सुबह के समय कर सकते हैं क्योंकि सुबह का समय मेडिटेशन के लिए बहुत ही अच्छा रहता है क्योंकि सुबह के वक्त मनुष्य का दिमाग एकदम हल्का और बॉडी भी हल्की रहती है और सुबह के समय अच्छा महसूस होता है।

Advertisement

मेडिटेशन की शुरुआत करने के लिए आपको 1 दिन पहले सोचना होगा और मेडिटेशन की शुरुआत करने से पहले आपको थोड़ी बहुत एक्सोसाइज और स्ट्रैचिंग कर लेनी है।

मेडिटेशन कैसे करें 

ध्यान यानी कि मेडिटेशन करने के लिए आपको बहुत सारी बातें पता होनी चाहिए और आपको पता होना चाहिए कि मेडिटेशन कैसे किया जाता है अगर आप पहली बार मेडिटेशन करने जा रहे हैं तो आप नीचे दिए हुए स्टेप को फॉलो कर सकते है।

मेडिटेशन करने के लिए सबसे पहले आपको एक जगह का चुनाव करना होगा

मेडिटेशन करने के लिए आपको सबसे पहले अच्छी जगह का चुनाव करना होगा जहां पर बिल्कुल भी हल्ला गुल्ला ना हो। अगर आपके पास कोई स्टेडियम है तो आप स्टेडियम के अंतर्गत भी मेडिटेशन कर सकते हैं।

मेडिटेशन को आप अपने घर पर बैठकर भी कर सकते हैं इसके लिए आप बालकनी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। आपको ऐसी जगह का चुनाव करना है जहां पर आप को शांति और अच्छा अनुभव हो।

मेडिटेशन करते समय जगह ऐसी होनी चाहिए जहां पर आपको लगे कि आप एक अलग दुनिया में है और आपके मन में दूसरे कोई विचार ना आए।

#1.समय का सही चुनाव करें

मेडिटेशन करने के लिए आपको सही जगह के साथ सही समय का भी चुनाव करना है अगर आप 6:00 से 7:00 का समय मेडिटेशन के लिए चुनते हैं तो यह काफी अच्छा रहेगा।

क्योंकि सही समय पर ध्यान करना आवश्यक है। मेडिटेशन को कभी भी दिन के समय में नहीं करना चाहिए क्योंकि दिन के समय में व्यक्ति बहुत ही ज्यादा व्यस्त रहता है और व्यक्ति के दिमाग में एक नहीं बल्कि ढेर सारी बातें गुजरती है।

#2.स्ट्रैचिंग करें

मेडिटेशन करने से पहले आपको थोड़ा बहुत स्ट्रैचिंग कर लेनी है क्योंकि स्ट्रैचिंग करने से आपकी बॉडी खुल जाएगी और मेडिटेशन करते समय आपको बहुत ही आसानी रहेगी। इसलिए जितना हो सके मेडिटेशन शुरू करने से पहले आपको थोड़ा बहुत कुछ स्ट्रैचिंग कर लेनी है।

#3.शरीर को सीधा और शांत रखें

मेडिटेशन करते समय आपको अपना शरीर एकदम सीधा रखना है साथ-साथ आपको अपने शरीर को एकदम शांत कर देना है आपको किसी भी विचार को अपने मन में नहीं लाना है।

अगर आप अपने शरीर को सीधा नहीं रख पा रही हूं तो आपको सबसे पहले शरीर को सामने रखना है और अपनी आंखों को एक जगह केंद्रित करना है। इसके बाद आपको अपने दिमाग को भी एकदम शांत कर देना है आपको किसी भी प्रकार के विचार को अपने मन और दिमाग में नहीं लाना है।

#4.लंबी और गहरी सांस लें

मेडिटेशन करते समय आपको लंबी और गहरी सांस लेनी होती है जब आप एक बार लंबी और गहरी सांस लेंगे तो उसको आपको धीरे-धीरे करके छोड़ना है और अपनी सांसो में ध्यान को केंद्रित करना है जल्दी जल्दी सांस लेने की आवश्यकता नहीं है। आपको अपने दिमाग की तरह सांसो में भी कंट्रोल करना है।

#5.अपने दिमाग में फोटो या चित्र को केंद्रित करें

 लंबी और गहरी सांस लेने के बाद आप आपको अपने दिमाग में एक चित्र को बनाना है या फिर आप किसी फोटो का इस्तेमाल कर सकते हैं आपको उस फोटो को 5 मिनट तक अपने दिमाग में रखना है और इसके बाद उस फोटो को हटा कर वापस से ध्यान को उस फोटो पर केंद्रीकृत करने का प्रयास करना है। अगर 5 मिनट बाद आपको वह फोटो वापस नजर आएगी तो आपका मेडिटेशन सफल हो जाएगा क्योंकि मेडिटेशन के माध्यम से अपने दिमाग को तेज और यादगार बनाया जाता है।

#6.लगभग 10 मिनट तक मेडिटेशन करने का प्रयास करें

मेडिटेशन को आपको लगभग 10 मिनट तक करना होता है अगर आप 10 मिनट तक मेडिटेशन करने में सफल रहते हैं तो आपका मेडिटेशन सफलतापूर्वक खत्म हो जाएगा आपको रोजाना 10 मिनट और 15 मिनट तक मेडिटेशन करना है।

मेडिटेशन के प्रकार

मेडिटेशन पांच प्रकार के होते हैं और सभी व्यक्ति अलग-अलग प्रकार की मैडिटेशन प्रक्रिया का इस्तेमाल करते हैं।

#1.Mantra Meditation

मेडिटेशन का पहला प्रकार है Mantra Meditation इस के अंतर्गत किसी मंत्र का उच्चारण लगातार करना होता है। जैसे ओम शब्द का उच्चारण। आपको लगातार ओम शब्द का उच्चारण करते रहना है।

#2.Om Shanti Meditation

ओम शांति मेडिटेशन में आपको अपना ध्यान लाइट की ओर केंद्रीकृत करना होता है और धीरे-धीरे आपको अपने दिमाग से सभी नेगेटिव बातों को निकाल कर अपने ध्यान को एक जगह केंद्रीकृत करने का प्रयत्न करना होता है।

Meditation Kaise Kare
Meditation Kaise Kare

#3.Mindfulness Meditation

इस मैडिटेशन के अंतर्गत आपको अपनी सांसो पर ध्यान केंद्रित करना होता है आपको अपनी सांसो पर कंट्रोल करना होता है। इस मैडिटेशन से आपकी एकाग्रता शक्ति में वृद्धि होती है।

#4.Eye Meditation

इसे मेडिटेशन के अंतर्गत नेत्र को एक जगह से कितना होता है यानी कि आपको आंखों को बंद करके अपना ध्यान केंद्रित करने का प्रयास करना होता है। आपको अपनी दोनों आंखों को बंद कर करती है तीसरी आंखों पर अपना ध्यान केंद्रित करना होता है।

#5.Deep Meditation

Deep Meditation के अंतर्गत आपको सारे विचार को छोड़कर और दिमाग को एकदम शांत और फ्री रखना होता है और आपको सारा ध्यान सामने लगा देना है और आपको अपने मन के अंतर्गत किसी भी प्रकार के विचार को नहीं लेना है इस मेडिटेशन के माध्यम से आप अपने दिमाग को शांत रख सकते हैं।

मेडिटेशन करते समय क्या सोचना चाहिए?

मेडिटेशन करते समय आपको एक चित्र को अपने सामने रख लेना है और 5 मिनट तक उस चित्र को देखते रहना है अगर आप 5 मिनट बाद उस चित्र को अपने दिमाग में महसूस करेंगे तो आप मेडिटेशन को सफलतापूर्वक कर सकते हैं।

मेडिटेशन करते समय आप अपने दिमाग में किसी चित्र को सोचना शुरू कर सकते हैं या फिर आप ओम शांति मंत्र का जाप कर सकते हैं। वैसे अधिकांश लोग मेडिटेशन करते समय बिल्कुल भी सोचते नहीं है और अपना ध्यान एक जगह केंद्रीकृत करने का प्रयास करते हैं।

मेडिटेशन कितने समय तक करना चाहिए?

सभी लोग अलग-अलग तरीके से मेडिटेशन करते हैं बहुत सारे लोग ऐसे हैं जो मेडिटेशन को 20 मिनट तक करते हैं और कुछ लोग ऐसे हैं कि मेडिटेशन को केवल 5 मिनट करते हैं व्यक्ति की इच्छा के ऊपर निर्भर करता है कि वह कितनी देर तक मेडिटेशन करना चाहता है।

अगर आप अपने दिमाग को तेज और शांति रखना चाहते हैं तो आपको 30 मिनट से लेकर 20 मिनट के बीच में रोजाना मेडिटेशन करनी चाहिए अगर आप जितनी देर तक Meditation करेंगे तो उतना ज्यादा फायदा आपके शरीर को मिलेगा।

How to do Meditation at home in Hindi

घर पर बैठकर Meditation बहुत ही आसानी से किया जा सकता है। अगर आपके घर पर कोई कमरा खाली है तो आप उस कमरे में बैठकर सुबह के समय में मेडिटेशन कर सकते हैं ध्यान रहे कि आपको मेडिटेशन करते समय कोई परेशान ना करें और ना ही किसी प्रकार की आवाज आए।

आप अपने घर की छत पर बैठकर भी मेडिटेशन कर सकते हैं क्योंकि कमरे में मेडिटेशन करते समय आपको बहुत सारी समस्या आ सकती है। अगर आपका कोई कमरा खाली है तो आप को तभी उस कमरे में मेडिटेशन करनी चाहिए।

Anxiety Meaning In Hindi – Anxiety Disorder क्या है

मेरा पढ़ाई में मन नहीं लगता क्या करूं तो अपनाएं ये 15 तरीके – Mera Padhai Mein Man Nahi Lagta Hai Kya Karun

कुंडली भाग्य को ऑनलाइन कैसे देखें – Kundali Bhagya Tv Show Online Kaise Dekhe

जन्म कुंडली कैसे देखें

मेडिटेशन करने के फायदे – Meditation Ke Fayde in Hindi

आज के समय में मेडिटेशन करने के बहुत सारे फायदे हैं क्योंकि मेडिटेशन से हमारे शरीर और मानसिक विकास पर बहुत असर पड़ता है। जिन लोगों की याद करने की क्षमता और जो लोग मानसिक तनाव में रहते हैं उन्हें मेडिटेशन करना चाहिए।

  • मेडिटेशन करने से दिमाग एकदम शांत रहता है और दिमाग में नकारात्मक चीजें नहीं आती हैं।
  • अगर आप रोजाना मेडिटेशन करेंगे तो आपका गुस्सा इतना शांत रहेगा आपको छोटी-छोटी बात पर गुस्सा नहीं आएगा।
  • मेडिटेशन करने का एक तीसरा फायदा यह है कि व्यक्ति का मानसिक विकास तेजी से होगा।
  • मेडिटेशन करने से व्यक्ति की याद करने की क्षमता बढ़ती है।
  • मेडिटेशन करने से व्यक्ति का शरीर एकदम स्वास्थ रहता है और बुरी आदतें भी छूट जाती हैं।

जिन लोगों का ध्यान पढ़ाई में नहीं लगता है उन्हें भी रोजाना मेडिटेशन करनी चाहिए।

मेडिटेशन करने का सबसे बड़ा फायदा यह है कि व्यक्ति को गुस्सा कम आता है और व्यक्ति की सोचने और याद करने की क्षमता बढ़ जाती है।

मेडिटेशन करने से दिमाग एकदम तेज होता है और नकारात्मक चीजें भी समाप्त हो जाती है। रोज सुबह के समय उठकर आधा घंटा या 15 मिनट तक मेडिटेशन करना आवश्यक है।

Conclusion

Meditation Kaise Kare के बारे में आप आपको जानकारी मिल गई होगी आप अपने घर और पार्क में बैठकर आसानी से मेडिटेशन कर सकते हैं।

मेडिटेशन आज के समय में महत्वपूर्ण है क्योंकि आज के समय में व्यक्ति का दिमाग बहुत ही ज्यादा व्यस्त रहता है और दिमाग को शांत करने के लिए मेडिटेशन करनी चाहिए।

मेडिटेशन स्टूडेंट से लेकर हर एक व्यक्ति को करना चाहिए क्योंकि इसके अलग-अलग फायदे देखने के लिए मिलते हैं।

Leave a Comment